अक्षय से नरेंद्र मोदी ने साझा किए निजी जीवन के अनछुए पहलू

नरेंद्र मोदी, अक्षय कुमारPhoto Credit: Twitter BJP

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभिनेता अक्षय कुमार के साथ बातचीत में अपने निजी जीवन के बारे में कई ऐसी बातें साझा की हैं जिसके बारे में कम लोग जानते हैं ।

अक्षय कुमार ने 21 अप्रैल को अपने ट्विटर पर लिखा था कि वह कुछ ऐसा करने जा रहे हैं जो उन्होंने पहले कभी नहीं किया। लोगों को लगा कि अक्षय कुमार राजनीति से जुड़ने जा रहे हैं लेकिन अक्षय ने 22 अप्रैल को अपने ट्वीट में इसे नकार दिया। 23 अप्रैल को अक्षय ने खुलासा किया उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के साथ बातचीत की है ।

तैराकी है पसंद, मीम हंसाते हैं 

नरेंद्र मोदी के साथ की गई अक्षय की ये बातचीत पूरी तरह से गैर राजनीतिक है। इस बातचीत में मोदी ने जुकाम में अपनाए नुस्खे से लेकर सोशल मीडिया के मीम पर भी बात की है । इस बातचीत में दोनों ने चुटकुले भी साझा किए हैं तो मोदी ने बचपन में अपने पसंद के खेलों के बारे में भी बताया है।

मोदी ने कहा कि जिंदगी जीने के लिए ग्रुप वाले खेल खेलने चाहिए इससे व्यक्ति का विकास होता है । मोदी ने बताया कि उन्हें पानी पसंद था तो वो तैराकी किया करते थे। प्रधानमंत्री ने बताया कि जुकाम होने पर वो गरम पानी पीते हैं, रात को सोने से पहले नाक में सरसों के गुनगुने तेल की दो बूंदे डालते हैं और कोशिश करते हैं कि खाना न खाएं या कम से कम खाएं ।

मोदी ने कहा कि सोशल मीडिया पर साझा किए गए मीम उन्हें अक्सर हंसाते हैं, अक्सर उन्हें इसमें क्रिएटिविटी दिखती है।

पढ़कर भाषण नहीं दे सकता 

इस बातचीत में नरेंद्र मोदी ने ये भी साझा किया कि वह पढ़कर भाषण नहीं दे पाते। उनके दिमाग में विचार बहुत तेजी से आते हैं तो उन्हें पढ़कर बोलने में दिक्कत आती है ।

नरेंद्र मोदी, अक्षय कुमार

Photo Credit: Twitter BJP

अक्षय कुमार ने नरेंद्र मोदी से ये भी पूछा कि वो फिल्में देखते हैं या नहीं । प्रधानमंत्री ने बताया कि उन्हें फिल्में देखने का वक्त नहीं मिलता लेकिन पहले कभी-कभी देख लिया करते थे । नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने अमिताभ बच्चन के साथ ‘पा’ और अनुपम खेर की ‘ए वेडनसडे’ देखी है ।

छत पर अकेले चाय पीना पसंद

नरेंद्र मोदी ने बताया कि सुबह 5 बजे और शाम के 6 बजे उन्हें चाय पीने की आदत है और शाम को छत पर अकेले बैठकर चाय पीना पसंद है ।

अच्छी हिंदी बोलने को लेकर नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने गुजराती होते हुए अच्छी हिंदी चाय बेचते हुए सीखी। मोदी ने कहा कि बीजेपी के नेता सिकंदर बख्त उनकी अच्छी हिंदी बोलने पर काफी अचरज किया करते थे, कहते थे कि मोरारजी देसाई तो हिंदी नहीं बोल पाते । मोदी ने बताया कि चाय बेचने के दौरान लोगों से बातचीत करते हुए उत्तर भारत की संस्कृति और हिंदी को समझने-सीखने का मौका मिला ।

‘कभी नहीं सोचा कि प्रधानमंत्री बन सकता हूं’

इस गैर राजनीतिक बातचीत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री बनने के बारे में नहीं सोचा था क्योंकि उनकी पृष्ठभूमि में ऐसा कुछ नहीं था कि वह इस बारे में सोचते। मोदी ने कहा, “लेकिन मेरी पारिवारिक पृष्ठभूमि ऐसी है जैसे अगर मुझे अच्छी नौकरी मिल जाती, तो मेरी मां ने पड़ोसियों को गुड़ बांटे होते क्योंकि हमने कभी इससे आगे नहीं सोचा था। हमने कभी भी अपने गांव के बाहर कुछ नहीं देखा।”

मोदी ने कहा कि एक समय उनका मानना था कि या तो वह संन्यासी बनेंगे या सेना में शामिल होंगे।

नरेंद्र मोदी, अक्षय कुमार

Photo Credit: Twitter BJP