अगस्तावेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाले पर राहुल चुप क्यों : जेटली

Arun JaitleyPhoto Credit: Twitter Arun Jaitley

नई दिल्ली | केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने अगस्तावेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय यानि ईडी की चार्जशीट पर राहुल गांधी की तरफ से कोई भी बयान नहीं आने पर सवाल खड़े किए हैं ।

3,600 करोड़ रुपये के अगस्टावेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदा मामले में ईडी की चार्जशीट में उस समय की सत्तारूढ़ पार्टी से जुड़े महत्वपूर्ण नेताओं और बाकी कई लोगों को रिश्वत देने की बात कही गई है।

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में सात करोड़ यूरो की दी गई रिश्वत: ईडी

अरुण जेटली ने कहा कि राहुल गांधी कई सारे विषयों पर बात करते हैं, उन विषयों पर भी जिनके बारे में वह कुछ नहीं जानते, लेकिन जिस बारे में वह जानते हैं, उसपर चुप्पी साधे हुए हैं।

प्रवर्तन निदेशालय की चार्जशीट में ‘श्रीमति गांधी’ का ज़िक्र

जेटली ने कहा, “यदि दस्तावेजों के आधार पर किसी पर आरोप है तो उसपर कुछ जवाब आना चाहिए। यदि इस तरह के गंभीर आरोपों पर कोई जवाब नहीं दिया जाता है, तो देश को यह मान लेने का अधिकार है कि इसका कोई जवाब नहीं है।” मामले से जुड़े ईडी के दस्तावेज़ों में आरजी, एपी और एफएम जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया गया है । अरुण जेटली ने राहुल गांधी से इन शब्दों के मायने पर सवाल पूछे और कहा ‘किसी आरोपी को चुप रहने का अधिकार है, लेकिन किसी प्रधानमंत्री पद के दावेदार को नहीं”