आरबीआई ने दी राहत, सस्ता होगा लोन, ईएमआई नहीं भरने की मिली मोहलत 3 महीने के लिए और बढ़ाई

मुंबई रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर शक्तिकांत दास ने वर्तमान आर्थिक हालात को देखते हुए कई बड़े ऐलान किए हैं । इसमें रेपो रेट में कटौती, लोन किस्त पर 3 महीने की और बढ़ाने जैसे कदम शामिल हैं ।

 रेपो रेट में 0.40 फीसदी की कटौती

आरबीआई गवर्नर ने बताया कि पिछले तीन दिन में एमपीसी ने घरेलू और ग्लोबल माहौल की समीक्षा की। इसके बाद रेपो रेट में 0.40 फीसदी की कटौती का फैसला लिया गया है। लॉकडाउन में आरबीआई की तरफ से दूसरी बार रेपो रेट में कटौती की गई है । इससे पहले 27 मार्च को आरबीआई गवर्नर ने 0.75 फीसदी कटौती का ऐलान किया था जिसके बाद कई बैंक ने लोन पर ब्याज दर कम कर दिया था ।

आरबीआई का बड़ा फैसला । बैंकों के साथ ही कर्ज लेने वालों को भी राहत, अब 90 नहीं 180 दिन के बाद एनपीए होगा कर्ज

ईएमआई पर तीन महीने की छूट बढ़ाई गई

लॉकडाउन के शुरुआती दिनों में ही आरबीआई ने बैंकों से तीन महीने के लिए लोन और ईएमआई पर छूट देने को कहा था जिसके बाद अधिकतर बैंकों ने इसे 3 महीने के लिए लागू कर दिया था । अब आरबीआई की तरफ से एक बार फिर 3 महीनों के लिए ये मोहलत और बढ़ा दी गई है । मतलब अब कुल 6 महीने तक ग्राहकों को लोन की ईएमआई भरने के लिए बैंक दबाव नहीं डाल सकते और इससे क्रेडिट स्कोर पर भी असर नहीं पड़ेगा । हालांकि लोन पर ब्याज से राहत नहीं मिलेगी और ईएमआई अतिरिक्त ब्याज के साथ चुकानी होगी।