इंडिगो का मुनाफा चौथी तिमाही में 401 फीसदी बढ़ा

IndiGo

मुंबई। किफायती हवाई उड़ान सेवा प्रदान करने वाली कंपनी इंडिगो ने वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही में उसका मुनाफा 401.2 फीसदी बढ़ गया है।

एयरलाइन कंपनी के मुताबिक 31 मार्च 2019 को समाप्त हुई तिमाही में इंडिगो का निवल मुनाफा 589.6 करोड़ रुपये रहा जबकि पिछले साल की समान अवधि में कंपनी का मुनाफा 117.6 करोड़ रुपये था।

इंडिगो को मिल सकता है जेट एयरवेज की बर्बादी का सबसे ज्यादा फायदा

2018-19 की चौथी तिमाही में संचालन से प्राप्त कंपनी के राजस्व में पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 35.9 फीसदी का इजाफा हुआ।

बीती तिमाही में कंपनी का राजस्व 7,883.3 करोड़ रुपये रहा जबकि एक साल पहले की चौथी तिमाही में कंपनी का राजस्व 5,799.1 करोड़ रुपये था।

हालांकि पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में इंडिगो का निवल मुनाफा पिछले साल के मुकाबले 93 फीसदी घटकर 156.1 करोड़ रुपये रह गया। वित्त वर्ष 2017-18 में कंपनी का निवल मुनाफा 2,242.4 करोड़ रुपये था।

स्पाइसजेट के बेड़े मे शामिल होंगे 60 विमान

इंडिगो के सीईओ रोनाजोय दत्त के मुताबिक 2019 भारतीय एयरलाइन उद्योग के लिए काफी कठिन रहा है। ईंधन की कीमतें ऊंची रही और रुपये में कमजोरी बनी रही। इसके अलावा काफी प्रतिस्पर्धा का वातावरण रहा।

इंडिगो के बेड़े में 31 मार्च 2019 तक 217 विमान थे।