इस तरह के हथकंडों से नहीं डरते हैं हम: कमलनाथ

कमलनाथ

भोपाल| मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने करीबियों पर आयकर विभाग की छापेमारी को विपक्ष की डराने की कार्रवाई करार दिया है ।

मुख्यमंत्री कमलनाथ की ओर से एक बयान जारी किया गया है, ‘आयकर छापों की सारी स्थिति अभी साफ नहीं हुई है। सारी स्थिति साफ होने के बाद ही इस पर कुछ कहना उचित होगा। लेकिन पूरा देश जानता है कि संवैधानिक संस्थाओं का किस तरह, किन लोगों के खिलाफ और कैसे ये लोग इस्तेमाल पिछले पांच साल में करते आए हैं।‘

कमलनाथ के ओएसडी सहित कई लोगों के यहां आयकर के छापे, भारी नगदी मिली

कमलनाथ का आरोप है कि विपक्ष संस्थाओं का  इस्तेमाल डराने के लिए कर रहा है । जब इनके पास विकास के लिए किए गए अपने कमों पर कुछ कहने-बोलने को नहीं बचता तो ये विरोधियों के खिलाफ इस तरह के हथकंडे अपनाते हैं। जब लोकसभा चुनाव में बीजेपी को अपनी हार सामने नजर आने लगी है तो जानबूझकर इस तरह की कार्रवाई की जा रही है ताकि इसका फायदा चुनाव में उठाया जा सके ।

भोपाल में संघ कार्यालय से सुरक्षा हटी, बीजेपी की चेतावनी, दिग्विजय सिंह ने भी जताया ऐतराज़

कमलनाथ ये भी कहा है कि इस तरह के हथकंडे पिछले चुनाव में भी अपनाए गए थे, अब इससे कोई फर्क नहीं पड़ता । कमलनाथ ने मामले की निष्पक्ष जांच कराए जाने को भी कहा है ।

दिग्विजय ने शिवराज को दी खुली बहस की चुनौती

आयकर विभाग की टीमों ने रविवार की सुबह से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड़, पूर्व सलाहकार मिगलानी समेत कई लोगों के घरों और ऑफिस पर छापेमारी की है, इसमें बड़ी मात्रा में नकदी मिलने की बात कही जा रही है ।