उत्तर प्रदेश में आए रुझानों से बीजेपी में खुशी, विपक्ष को 23 का इंतजार

लखनऊ ।  तमाम एक्जिट पोल में उत्तर प्रदेश में बीजेपी को 50 से 60 सीटें मिलती देख पार्टी में खुशी है, वहीं विपक्ष 23 मई को आने वाले परिणामों का इंतजार कर रहा है।

2014 में बीजेपी गठबंधन को उत्तर प्रदेश से 73 सीटें मिली थीं। समाजवादी पार्टी के खाते में पांच सीटें आई थीं, जबकि बीएसपी का खाता भी नहीं खुल पाया था। लेकिन 2018 में हुए उपचुनाव में फूलपुर, गोरखपुर, और कैराना में गठबंधन ने बीजेपी को जबरदस्त झटका दिया था। गोरखपुर में मिली हार चौंकाने वाली थी क्योंकि ये पार्टी का गढ़ है। इसके बाद 2019 के चुनाव में एसपी और बीएसपी ने गठबंधन में चुनाव लड़ा है।

अबकी बार 350 के पार, मोदी की नीति और नीयत ही सबसे बड़ा मुद्दा

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंदनाथ पाण्डेय ने कहा, “हम सबको पहले ही विश्वास था कि देश की जनता मोदी जी और राजग को राष्ट्र को और आगे बढ़ाने के लिए भारी बहुमत देगी। ये सर्वे उसी को परिभाषित कर रहे हैं। लेकिन हमारा मनाना है कि उत्तर प्रदेश में हमारा नारा 73 प्लस का सार्थक होगा।”

कांग्रेस के प्रवक्ता आशोक सिंह ने कहा, “मीडिया ने तो चुनाव के पहले ही बीजेपी की सरकार बनवा दी थी। इसीलिए अभी रुझानों पर ज्यादा कुछ कहना ठीक नहीं है। 23 मई को आने वाले परिणामों में हम डबल डिजिट में प्रदेश में होंगे। देश में एक बार कांग्रेस की सरकार बनेगी। सर्वे इसी प्रकार राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में आए थे। बाद में सब फुस्स कारतूस हो गए। इसीलिए इन पर ज्यादा भरोसा न करके 23 मई का इंतजार करना ठीक है।”

समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा, “जो सच्चाई है वह 23 मई को जनता के सामने आएगी। अभी से इन रुझानों पर क्या कहना है। पूरे प्रदेश में जनता ने महागठबंधन के पक्ष में वोट दिया है। बीजेपी की हालत पतली है। 23 मई के परिणाम चौंकाने वाले होंगे।”

इस बार चुनाव दल के लिए नहीं देश के लिए: नरेंद्र मोदी

टाइम्स नाउ-वीएमआर के एक्जिट पोल के मुताबिक, बीजेपी को उत्तर प्रदेश में 80 में से 58 सीटें मिल सकती हैं। एसपी-बीएसपी गठबंधन को 20 सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस को महज दो सीटें मिलती दिख रही हैं। न्यूज 18 ने 60 से 62 सीटें एनडीए, 16 से 17 सीटें एसपी-बीएसपी गठबंधन को और एक से दो सीटें कांगेस को दी हैं।

इंडिया टुडे एक्सिस ने एनडीए को 62 से 68 सीटें, एसपी-बीएसपी गठबंधन को 10-16 सीटें और कांग्रेस को एक-दो सीटें मिलने का अनुमान लगाया है। एबीपी न्यूज-नील्सन के अनुसार उत्तर प्रदेश में बीजेपी को भारी नुकसान हो रहा है। गठबंधन को 56 और कांग्रेस को दो सीटें मिल सकती हैं।

एबीपी के सर्वे के अनुसार, अवध क्षेत्र की 23 सीटों में बीजेपी गठबंधन को सात सीटें, एसपी-बीएसपी  गठबंधन को 14 सीटें तथा कांग्रेस को दो सीटें मिल रही हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश की 27 सीटों में से बीजेपी गठबंधन को 6, एसपी-बीएसपी को 21 वहीं कांग्रेस को दो सीटें मिल रही हैं। बुंदेलखंड की चार सीटों में बीजेपी गठबंधन को एक, एसपी-बीएसपी गठबंधन को तीन सीटें मिल रही हैं। वहीं पूर्वांचल की 26 सीटों में बीजेपी गठबंधन को आठ, एसपी-बीएसपी-आरएलडी को 18 सीटें तथा कांग्रेस को शून्य सीटें मिल रही हैं।