उन्नाव रेप पीड़ित कार हादसा मामले की हो सकती है सीबीआई जांच

Unnao Rape Survivor met with an accident

लखनऊ  उन्नाव की रेप पीड़िता के कार की भीषण सड़क दुर्घटना मामले की जांच सीबीआई कर सकती है। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने कहा है कि अगर पीड़िता चाहती है तो उनकी सरकार राय बरेली मामले की सीबीआई जांच कराने के लिए तैयार है।

रायबरेली में हुए इस हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है, पीड़िता और उसके वकील महेंद्र सिंह गंभीर रूप से घायल हैं और रविवार को हुई इस दुर्घटना के बाद से लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं।

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ.पी. सिंह ने कहा कि दुष्कर्म पीड़िता को तीन निजी सुरक्षा कर्मी दिए गए थे लेकिन कार में जगह नहीं होने के कारण पीड़िता ने सुरक्षा कर्मियों वहीं रुकने के लिए कहा था।

डीजीपी के मुताबिक शुरुआती जांच में ये एक हादसा लग रहा है।  इस मामले में चश्मदीदों के बयान भी दर्ज किए गए हैं।

हालांकि कार को टक्कर मारने वाला ट्रक गलत दिशा से आ रहा था और उसके नंबर प्लेट पर काले रंग  से नंबर छिपाने की कोशिश की गई थी, इससे इस मामले में कई सवाल खड़े हो रहे हैं।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस ने मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो यानि सीबीआई से कराने की मांग की है।

अखिलेश का कहना है कि पीड़िता को सुरक्षा प्रदान की गई है, लेकिन दुर्घटना के दौरान उनके साथ एक भी सुरक्षाकर्मी मौजूद नहीं था।

उन्होंने कहा कि यह दुर्घटना बस एक दुर्घटना थी या फिर पीड़िता के परिवार को खत्म करने की साजिश थी, इसकी सीबीआई जांच जरूर होनी चाहिए।

वहीं कांग्रेस ने भी इस हादसे की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है।

अदालत ने पिछले साल पीड़िता के परिवार को सुरक्षा प्रदान करने का आदेश दिया था, लेकिन हादसे के वक्त परिवार के साथ कोई सुरक्षा गार्ड नहीं था।

हादसा रविवार की शाम नेशनल हाइवे 31 पर हुआ था जिसमें पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई वहीं पीड़िता और उसके वकील महेंद्र सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

ट्रक मालिक और चालक गिरफ्तार

ट्रक के मालिक देवेंद्र सिंह और चालक आशीष पाल को गिरफ्तार कर लिया गया है।

ये मामला काफी हाई प्रोफाइल है क्योंकि हादसे का शिकार हुई पीड़िता ने बीजेपी के एक विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाया है । इस मामले में विधायक लंबे वक्त से जेल में बंद हैं और मामले की जांच सीबीआई के पास है । रेप पीड़िता के पिता की संदिग्ध हालत में पहले ही पुलिस हिरासत में मौत हो चुकी है और चाचा धोखाधड़ी के आरोप में जेल में बंद हैं ।