कमलनाथ का 34 साल पुराना सपना पूरा हुआ, प्रदेश में अध्यात्म विभाग का गठन

Kamal NathKamal Nath

भोपाल । मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अध्यात्म विभाग के गठन का खाका तैयार कर दिया है । विभाग का गठन दो विभागों को मिलाकर किया जाएगा, जिसमें धर्मस्व विभाग और आनंद विभाग शामिल हैं । कांग्रेस का कहना है, नए अध्यात्म विभाग में सभी धर्मों का सम्मान होगा।

कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में अध्यात्म विभाग के गठन का वादा किया था ।  इसके साथ ही कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में प्रदेश में चित्रकूट क्षेत्र में राम गमन पथ बनाने तथा गोमूत्र और गोबर के कंडों के व्यावसायिक उत्पादन का भी वादा किया है।

राज्य के जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा के मुताबिक मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 34 साल पहले ‘अध्यात्म विभाग’ बनाने का सपना देखा था । साल 1985 में लोकसभा में कमलनाथ ने इस बात का जिक्र भी किया था । राज्य का मुख्यमंत्री बनते ही उन्होंने यह विभाग गठित करने का फैसला लिया। 

अध्यात्म विभाग धर्म और अध्यात्म की चीजों का परिपालन करेगा।  

आईएएनएस इनपुट के साथ