कश्मीर मुद्दे पर ट्रंप के बयान पर सदन में हंगामा, पीएम से जवाब की मांग

Narendra Modi and Donald TrumpPhoto Credit : Twitter Narendra Modi

नई दिल्ली । कश्मीर मुद्दे पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान को लेकर सदन के दोनों सदनों में हंगामा हो गया जिसकी वजह से राज्यसभा की कार्यवाही तक स्थगित करनी पड़ी । राज्यसभा में जवाब देते हुए विदेश मंत्री जयशंकर ने ये साफ किया कि नरेंद्र मोदी की तरफ से कभी भी मध्यस्थता की मांग नहीं की गई ।

वहीं लोकसभा में मोदी से जवाब देने की मांग करते हुए विपक्ष ने सदन से वॉकआउट किया । कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और सीपीआई के नेताओं ने नरेंद्र मोदी से जवाब की मांग की । हालांकि इस मसले पर स्पीकर ने मसला प्रश्नकाल में उठाने की बात कही थी, हालांकि विपक्ष अपनी मांग पर अड़ा रहा।

ट्रंप के बयान के बाद शुरू हुआ हंगामा

 

ट्रंप ने सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात से पहले कहा था कि जापान में जी-20 सम्मेलन से इतर मुलाकात के दौरान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने का आग्रह किया था।

हालांकि सरकार की तरफ से ट्रंप के इस दावे को खारिज किया गया है । सरकार का कहना है कि पाकिस्तान के साथ हर मुद्दा द्विपक्षीय है और इसपर कभी भी किसी तीसरे देश या पक्ष के मध्यस्थता की ज़रूरत नहीं है ।

इस मसले पर कांग्रेस के नेता शशि थरूर ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का साथ दिया है । शशि थरूर ने एक ट्वीट में लिखा है कि डोनाल्ड ट्रंप समझ ही नहीं पाए होंगे कि नरेंद्र मोदी क्या कहना चाहते हैं।

अंतरिक्ष की कक्षा में पहुंचा चंद्रयान-2, ऐतिहासिक यात्रा की शुरुआत

भारत हमेशा से ये कहता आया है कि पाकिस्तान के साथ किसी भी मुद्दे पर उन्हें तीसरे पक्ष की मध्यस्थता नहीं चाहिए। पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद भारत ये भी तय किया है कि जब तक पाकिस्तान सीमा पार आतंकवाद को समर्थन देना बंद नहीं करता भारत उनसे कोई बातचीत नहीं करेगा ।