गोवा के उप मुख्यमंत्री सुदीन धावलिकर को कैबिनेट से हटाया गया

सुदीन धावलिकर

पणजी | गोवा के उपमुख्यमंत्री सुदीन धावलिकर को प्रमोद सावंत की अगुआई वाली कैबिनेट से हटा दिया गया है । सुदीन धावलिकर महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के नेता हैं और इनके पास लोक निर्माण मंत्रालय का प्रभार था।

गोवा में लगातार राजनीतिक उथल-पुथल हो रही है । एमजीपी के दो विधायक बीजेपी में शामिल हो गए हैं । इसके बाद मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत की कैबिनेट से सुदीन धावलिकर जैसे सबसे सीनियर मंत्री को हटा दिया गया है । सुदीन धावलिकर का कहना है,”रात को चौकीदारों ने एमजीपी पर जो डकैती डाली, उससे गोवा के लोग स्तब्ध हैं। गोवा के लोग यह देख रहे हैं। इस पर क्या करना है यह फैसला जनता लेगी।”
बीजेपी में शामिल होने वाले दो विधायकों में से एक दीपक पावस्कर को कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ दिलाए जाने की संभावना है ।

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने विश्वास मत जीता

गोवा में मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद प्रमोद सावंत ने राज्य की कमान संभाली है । राज्य में अकेले बीजेपी के पास बहुमत नहीं है । महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी ने बीजेपी को समर्थन दिया हुआ है । इस क्षेत्रीय पार्टी के तीन विधायक हैं । इनमें से दो विधायकों ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है  । बीजेपी के पास अब 14 विधायक हैं, इसके अलावा इन्हें गोवा फॉरवर्ड पार्टी और निर्दलीय विधायकों का समर्थन भी मिला हुआ है । कानून के मुताबिक किसी पार्टी के दो तिहाई विधायक अगर दूसरे दल में शामिल हो जाते हैं तो उनपर दलबदल कानून लागू नहीं होता । ऐसे में एमजीपी के इन दो विधायकों पर भी दलबदल कानून के तहत कार्रवाई नहीं की जा सकेगी ।