गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन, सोमवार को राष्ट्रीय शोक घोषित

Manohar ParrikarManohar Parrikar

पणजी। भारतीय राजनीति में सादगी, सरलता और समर्पण की मिसाल गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार की शाम को निधन हो गया। उनके निधन से पूरा देश शोक में डूब गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मनोहर पर्रिकर के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि सार्वजनिक जीवन में श्री पर्रिकर सत्यनिष्ठा और समर्पण के प्रतीक रहे।

अंतिम सांस तक अपनी ज़िम्मेदारी निभाते रहे

मनोहर पर्रिकर पिछले कुछ समय से पैन्क्रियाज कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे। इस दौरान वो इलाज के लिए अमेरिका भी गए, बाद में उन्हें एम्म दिल्ली में भी भर्ती कराया गया। बीमारी के दौरान भी मनोहर पर्रिकर ने न केवल राज्य का बजट पेश किया बल्कि गोवा के मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी सभी ज़िम्मेदारियों को बखूबी निभाते रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि मनोहर पर्रिकर आधुनिक गोवा के निर्माता थे। रक्षा मंत्री के तौर पर उनके कार्यकाल को पूरा देश याद रखेगा। केंद्र सरकार ने मनोहर पर्रिकर के निधन पर 18 मार्च को राष्ट्रीय शोक घोषित किया है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने शोक संदेश में कहा कि दलगत राजनीति से इतर सभी लोग उनका सम्मान करते थे।