जानिए दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों पर किनके बीच है मुकाबला

दिल्ली लोकसभा चुनाव

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए नई दिल्ली की 7 सीटों पर लगभग हर पार्टी के उम्मीदवारों के नाम का ऐलान हो चुका है । इन सीटों पर किनके बीच मुकाबला होना है ये तस्वीर अब साफ हो चुकी है ।

नई दिल्ली सीट से बीजेपी ने अपनी मौजूदा सांसद मीनाक्षी लेखी को चुनावी मैदान में उतारा है । मीनाक्षी का मुकाबला कांग्रेस के अजय माकन और आम आदमी पार्टी के ब्रजेश गोयल से है । 2014 में भी इस सीट से अजय माकन और मीनाक्षी लेखी के बीच भिड़ंत हुई थी और तब अजय माकन तीसरे स्थान पर रहे थे ।

पूर्वी दिल्ली से सांसद महेश गिरी का टिकट कट गया है, बीजेपी ने उनकी जगह क्रिकेटर गौतम गंभीर को मौका दिया है । इनका मुकाबला कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली और आम आदमी पार्टी की अतिशी मारलेना वाही से है। 2014 में पार्टी के स्टार प्रचारक रह चुके गौतम गंभीर 22 मार्च को ही औपचारिक रूप से बीजेपी में शामिल हुए हैं। हालांकि गौतम गंभीर सोशल मीडिया पर लंबे समय से नरेंद्र मोदी सरकार की नीतियों के समर्थन में लिखते रहे हैं ।

उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का मुकाबला बीजेपी से दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी से है।  आम आदमी पार्टी ने इस सीट से दिलीप पांडे पर भरोसा जताया है।

चांदनी चौक से बीजेपी के डॉ हर्षवर्धन कांग्रेस के जय प्रकाश अग्रवाल को टक्कर दे रहे हैं तो आम आदमी पार्टी ने इस सीट से पंकज गुप्ता को चुनावी मैदान में उतारा है।

पश्चिमी दिल्ली से कांग्रेस ने एक बार फिर महाबल मिश्रा पर ही भरोसा जताया है। इस सीट से बीजेपी के टिकट पर परवेश वर्मा और आम आदमी पार्टी के टिकट पर बलबीर सिंह जाखड़ चुनाव लड़ रहे हैं । 2014 में परवेश वर्मा ने इस सीट पर तीन लाख से ज्यादा वोटों के अंतर से जीत हासिल की थी । आम आदमी पार्टी के जरनैल सिंह दूसरे और महाबल मिश्रा तीसरे स्थान पर रहे थे । 2009 में सांसद चुने गए महाबल मिश्र को 2014 में महज 14 फीसदी वोट मिल पाए थे ।

उत्तर पश्चिम दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी ने जाने माने सिंगर हंस राज हंस को चुनावी मैदान में उतारा है। इनका मुकाबला कांग्रेस के राजेश लिलोथिया और आम आदमी पार्टी के गगन सिंह रंगा से होगा । पिछले लोकसभा चुनाव में इस सीट से बीजेपी के उदित राज को जीत हासिल हुई थी।

दक्षिणी दिल्ली सीट पर बीजेपी के उम्मीदवार रमेश बिधूड़ी का मुकाबला आम आदमी पार्टी के राघव चड्ढा और कांग्रेस के विजेंद्र सिंह से है । 2014 में इस सीट से बीजेपी के रमेश बिधूड़ी को जीत हासिल हुई थी । 2009 को छोड़ दें तो ये सीट बीजेपी का गढ़ है । 1989 के बाद से इस सीट पर बीजेपी ही जीतती आई है । मदन लाल खुराना और सुषमा स्वराज जैसे नेता यहां से लोकसभा पहुंचे हैं ।

दिल्ली की कुल 7 लोकसभा सीटों पर 12 मई को मतदान होना है।