देश में 3,374 हुई कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या, स्वस्थ लोग घर पर बने मास्क का कर सकते हैं इस्तेमाल

भारत में कोरोना । महानगरों पर ख़तरे के साथ ही देश के 170 ज़िले रेड ज़ोन हॉटस्पॉट

नई दिल्ली ।  कोरोना का कहर भारत में बढ़ता जा रहा है, तबलीग़ी जमात के लोगों की वजह से कोरोना संक्रमित लोगों की तादाद में बढ़ोतरी हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आँकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 3,374 पर पहुँच गई है। इधर,  266 मरीज कोरोना संक्रमण से अब तक पूरी तरह ठीक हो चुके हैं जबकि 77 संक्रमित लोगों की मौत हो चुकी है। इधर, ताज़ा जानकारी के मुताबिक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने की वजह से गृहमंत्रालय के सलाहकार के विजय कुमार और केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स के महानिदेशक ए.पी. माहेश्वरी ने भी स्वयं को क्वारैंटाइन कर लिया है।

सामूहिक शक्ति के लिए 5 अप्रैल, रात 9 बजे, 9 मिनट घर की बिजली बंद कर दीया या मोमबत्ती जलाएँ : मोदी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आँकड़ों पर नज़र डालें तो कोरोना के कहर की वजह से सबसे ज़्यादा 24 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई है और सबसे कम एक-एक व्यक्ति की मौत हिमाचल प्रदेश, आंध्रप्रदेश और बिहार में हुई है। कोरोना की वजह से जम्मू-कश्मीर में 2 , उत्तर प्रदेश में 2 और केरल में भी 2 लोगों की मौत हुई। देश के अन्य राज्यों के आँकड़ों पर नज़र डालें तो गुजरात में 10, तेलंगाना में 7, मध्य प्रदेश में 7, दिल्ली में 6, पंजाब में 5, कर्नाटक में 4, पश्चिम बंगाल में 3 लोगों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई हैं।

देश के “रतन” हैं टाटा, कोरोना से लड़ने के लिए दिए 1500 करोड़ रुपये

आम लोग घर पर बना मास्क पहनें

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार ने लोगों से कहा है कि वह घर पर बना मास्क भी लगा सकते हैं। इस संबंध में केंद्र सरकार ने एडवाइजरी जारी कर लोगों से अपील की है कि घर से बाहर निकलते वक्त घर पर बने मास्क का इस्तेमाल करें। सरकार का कहना है कि इससे आम लोगों को फायदा होगा, हालाँकि इसके साथ ही सरकार ने यह साफ किया है कि घर में बने मास्क का इस्तेमाल मरीजों और स्वास्थ्य कर्मियों को नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसे लोगों को विशेष तौर पर तैयार किए गए मास्क का ही इस्तेमाल करना चाहिए।