स्ट्रांजा मेमोरियल मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में निकहत, मीना, अमित ने जीते स्वर्ण

दिल्ली । स्ट्रांजा मेमोरियल मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में अमित पंघल, निकहत जरीन और मीना कुमारी ने गोल्ड जीता है । ये चैम्पियनशिप बुल्गारिया के सोफिया में चल रहा है । इन तीनों मुक्केबाजों ने अपने स्वर्ण पदक 14 फरवरी को पुलवामा में शहीद हुए जवानों को समर्पित किया। 

अमित पंघल इससे पहले एशियाई खेलों में भी स्वर्ण पदक अपने नाम कर चुके हैं । अमित पंघल 49 किलोग्राम भारवर्ग से इस टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतने वाले भारत के पहले पुरुष खिलाड़ी हैं। हरियाणा से आने वाले सेना के जवान अमित ने दमदार प्रदर्शन करते हुए कजाकिस्तान के टेमिराट्स झुसुपोव को 5-0 से शिकस्त दी। इस टूर्नामेंट में अमित का लगातार दूसरा स्वर्ण पदक है।

महिलाओं में पूर्व वर्ल्ड जूनियर चैम्पियन निकहत जरीन ने 51 किलोग्राम भारवर्ग और मीना कुमारी देवी ने 54 किलोग्राम भारवर्ग में अपने-अपने मुकाबले में गोल्डन पंच लगाया ।  48 किलोग्राम भारवर्ग में मुक्केबाज़ मंजू रानी को रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

दो बार की राष्ट्रीय विजेता निकहत जरीन ने फाइनल मुकाबले में फिलिपींस की मैग्नो आयरिश को 5-0 से मात दी। नागालैंड की मीना कुमारी ने भारत को दूसरा स्वर्ण दिलाया। हालांकि मीना को गोल्ड मेडल के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी। उन्होंने फिलिपींस की एइरा विलेजेस को 54 किलोग्राम भारवर्ग के फाइनल में 3-2 से पटखनी दी।

भारतीय मुक्केबाजों ने इस टूर्नामेंट में कुल सात पदक अपने नाम किए हैं जिनमें तीन स्वर्ण, एक रजत, और तीन कांस्य पदक शामिल हैं। भारत ने पिछले साल कुल 11 पदक अपने नाम किए थे जिनमें से दो स्वर्ण पदक थे और छह पदक महिलाओं ने जीते थे।

आईएएनएस इनपुट के साथ