पाकिस्तान से अब मेज पर नहीं, युद्ध के मैदान में बात हो : गौतम गंभीर

नई दिल्ली । जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए हमले से आहत पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा है कि अब पाकिस्तान के साथ टेबल पर नहीं बल्कि युद्ध के मैदान में बात होनी चाहिए।

गंभीर ने ट्विटर पर लिखा, “हां, अलगाववादियों-आतंकियों और पाकिस्तान से बात तो जरूर होनी चाहिए लेकिन यह बात टेबल पर नहीं बल्कि अब युद्ध के मैदान में होनी चाहिए। अब बस बहुत हुआ।” गंभीर ने ट्वीट उस समय किया था जब आतंकी हमले में शहीदों की संख्या 18 थी।

जम्मू-कश्मीर में 1989 में आतंकवाद के सिर उठाने के बाद से अब तक का ये सबसे बड़ा आतंकी हमला है । पुलवामा में एक आत्मघाती हमलवार ने श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर विस्फोटकों से लदी एसयूवी सीआरपीएफ की बस से टकरा दी । इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए हैं। ये हमला उरी में हुए आतंकी हमले से भी बड़ा है । 

ट्विटर के जरिये तमाम क्रिकेटर, राजनेता, फिलमकारों ने इस हमले पर अपना शोक जताया। टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग समेत सुरेश रैना, मयंक अग्रवाल, मोहम्मद कैफ, वीवीएस लक्ष्मण और शिखर धवन, प्रियंका चोपड़ा, अनुषका शर्मा, सभी ने भी इस आंतकी हमले की कड़ी निंदा की है।

आईएएनएस इनपुट के साथ