पुलवामा सीआरपीएफ कैंप हमले के मास्टरमाइंड समेत 3 आतंकी ढेर

फाइल फोटोफाइल फोटो

श्रीनगर  जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के शीर्ष कमांडर समेत तीन आतंकवादी मारे गए और सेना का एक जवान शहीद हो गया। मुठभेड़ में एक नागरिक की भी मौत हो गई।

पुलिस के मुताबिक मारा गया जैश का कमांडर 2017 में सीआरपीएफ के कैंप पर हुए हमले का मास्टरमाइंड था।

पुलिस के मुताबिक मारे गए तीन आतंकियों में नसीर पंडित, उमर मीर और खालिद भाई है । खालिद जेईएम का शीर्ष कमांडर और 2017 में लेथपोरा में सीआरपीएफ शिविर पर हुए हमले का मास्टरमाइंड था जिसमें पांच जवान शहीद हो गए थे । खालिद पाकिस्तानी था जबिक नसीर पंडित और उमर मीर स्थानीय थे।

मारे गए नागरिक की पहचान रईस अहमद डार के रूप में हुई है। रईस उस मकान के मालिक का बेटा है जिसमें सभी आतंकवादी छिपे थे। वहीं, डार का भाई मोहम्मद यूनिस गोली लगने से घायल हो गया है।

मुठभेड़ में सेना का एक जवान शहीद हो गया है वहीं दो अन्य जवानों के घायल होने की खबर है।

राष्ट्रीय रायफल्स (आरआर), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल (एसओजी) की संयुक्त टीम ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर ये कार्रवाई की । डोलीपोरा गांव की घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान आतंकियों ने सुरक्षा कर्मियों पर हमला कर दिया जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई थी।

ऐहतियातन प्रशासन ने पुलवामा में कर्फ्यू लगाने के साथ-साथ मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी है।

सोशल मीडिया पर भड़काऊ तस्वीरें और पोस्ट अपलोड करने से रोकने के लिए प्रशासन ने श्रीनगर शहर में भी मोबाइल इंटरनेट की स्पीड को बहुत धीमा कर दिया है।