मणिपुर में जल आपूर्ति परियोजना की आधारशिला, प्रधानमंत्री ने कहा- लाखों लोगों को मिलेगा पेयजल

प्रधानमंत्री ने मणिपुर में जल आपूर्ति परियोजना की आधारशिला रखी, कहा इससे लाखों लोगों को घर पर स्वच्छ पेयजल उपलब्ध होगाThe Prime Minister, Narendra Modi laying the foundation stone for Water Supply project in Manipur, through video conference, in New Delhi on July 23, 2020.

नई दिल्ली। मणिपुर में 3,000 करोड़ रुपये की लागत वाली जल आपूर्ति परियोजना की आधारशिला रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इससे राज्य में पेयजल की समस्याएँ कम होगी और विशेष रुप से महिलाओं को बड़ी राहत मिलेगी।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से मणिपुर में जल आपूर्ति परियोजना की आधारशिला रखी। उन्होंने कहा कि इस परियोजना से ग्रेटर इंफाल के अलावा राज्य के 25 छोटे शहरों और 1700 गाँवों को भी लाभ होगा। यह परियोजना अगले दो दशकों की ज़रूरतों को ध्यान में रखते हुए तैयार की गई है।

मोदी ने कहा कि इस परियोजना से लाखों लोगों के घर में पीने के साफ पानी की सुविधा उपलब्‍ध होगी और हज़ारों लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने पिछले साल 15 करोड़ से अधिक घरों में पाइप लाइन के जरिए पानी की आपूर्ति कराने के लक्ष्‍य के साथ शुरू किए गए जलजीवन मिशन को याद करते हुए कहा कि आज देश में प्रति दिन लगभग एक लाख पानी के कनेक्शन लगाए जा रहे हैं।

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान से बहुत कुछ सीख सकते हैं दूसरे राज्य : नरेंद्र मोदी

इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कहा कि बेहतर जीवन का संबंध सीधे तौर पर बेहतर संपर्क सेवाओं से है। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में बेहतर संपर्क सेवाएं एक सुरक्षित और सुनिश्चित आत्म-निर्भर भारत के लिए आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में सड़कें, राजमार्ग, वायुमार्ग, जलमार्ग और आई-वे के साथ-साथ आधुनिक पाइपलाइन के जरिए आधुनिक बुनियादी ढाँचे का विकास किया जा रहा है। पिछले 6 वर्षों में, पूरे पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में बुनियादी ढाँचे के विकास पर हजारों करोड़ रुपये का निवेश किया गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्वोत्‍तर के चार राज्यों की राजधानियों, जिला मुख्यालयों को दो लेन की सड़कों और गाँवों को सभी मौसम में इस्‍तेमाल की जा सकने वाली सड़कों से जोड़ने का प्रयास किया गया है। इस काम के लिए लगभग 3000 किलोमीटर सड़कें बिछाई गई हैं और अतिरिक्‍त 60000 किलोमीटर सड़कें बनाने की परियोजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि आज पूर्वोत्‍तर के युवा और आम नागरिक हिंसा को छोड़कर विकास और प्रगति की राह को चुन रहे हैं। मणिपुर में बाधाएं अब इतिहास का हिस्सा बन चुकी हैं। उन्होंने कहा कि असम, त्रिपुरा और मिजोरम के लोग भी हिंसा का रास्‍ता छोड़कर चुके हैं। ब्रु-रियांग शरणार्थी बेहतर जीवन की ओर बढ़ रहे हैं। मोदी ने कहा कि पूर्वोत्‍तर को देश का विकास इंजन बनना चाहिए।

 

Be the first to comment on "मणिपुर में जल आपूर्ति परियोजना की आधारशिला, प्रधानमंत्री ने कहा- लाखों लोगों को मिलेगा पेयजल"

Leave a Reply