प्रधानमंत्री मोदी ने देश में निवेश को बढ़ावा देने की रणनीतियों पर चर्चा की

PM meetingPhoto Credit : PIB

नई दिल्ली ।  प्रधानमंत्री ने भारत में और अधिक विदेशी निवेश के साथ-साथ घरेलू निवेश को बढ़ावा देने  के लिए अलग-अलग रणनीतियों पर चर्चा की । इस बैठक में वित्त मंत्री, गृह मंत्री, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री, राज्‍य मंत्री (वित्त) और भारत सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

कोविड-19 महामारी के मद्देनजर देश की अर्थव्यवस्था के विकास को नई गति देने के लिए प्रधानमंत्री कई जरूरी निर्देश दिए । प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र और राज्य, निवेशकों को समयबद्ध तरीके से सभी ज़रूरी मंजूरी देने में विशेष दृष्टिकोण अपनाएं।

इस बैठक में ये भी चर्चा की गई कि ऐसी योजना भी बनाई जाए जिसमें देश में मौजूदा औद्योगिक भूमि/भूखंडों/सम्पदा में नए और सभी तरह की मंजूरी  मिल चुके कामों को ज़रूरी फंड तुरंत मुहैया कराई जा सके। बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने निर्देश दिया कि निवेशकों का मार्गदर्शन करने, उनकी समस्याओं पर गौर करने तथा समयबद्ध तरीके से सभी आवश्यक केंद्रीय एवं राज्य मंजूरी प्राप्त करने में उनकी मदद करने हेतु और भी अधिक सक्रिय दृष्टिकोण अपनाने के लिए ठोस कदम उठाया जाना चाहिए।

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई जारी रखने के साथ अर्थव्यवस्था को विशेष महत्व देना होगा: प्रधानमंत्री

भारत में फास्ट-ट्रैक मोड से निवेश लाने और भारत के घरेलू सेक्‍टरों को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न रणनीतियों पर चर्चा की गई। अपनी-अपनी रणनीतियों को विकसित करने तथा निवेश आकर्षित करने हेतु और भी अधिक सक्रिय होने के लिए राज्यों का मार्गदर्शन करने पर विस्तृत चर्चाएं की गईं।

इस दौरान यह भी चर्चा की गई कि विभिन्न मंत्रालयों द्वारा सुधारों को लागू करने की पहल को निरंतर जारी रखा जाना चाहिए और निवेश एवं औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के मार्ग में मौजूद किसी भी बाधा को दूर करने के लिए समयबद्ध तरीके से ठोस कदम उठाए जाने चाहिए।