प्रमोद सावंत बने गोवा के मुख्यमंत्री, देर रात ली शपथ

प्रमोद सावंतडॉ प्रमोद पांडुरंग सावंत

पणजी । भारतीय जनता पार्टी के युवा नेता और गोवा विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष प्रमोद सावंत राज्य के मुख्यमंत्री बन गए हैं । 18 मार्च को देर रात उन्होंने पद की शपथ ली । इससे पहले प्रमोद सावंत ने कभी किसी मंत्री पद पर काम नहीं किया है ।

पेशे से आयुर्वेद के डॉक्टर प्रमोद सावंत ने महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले से मेडिसिन की पढ़ाई की है । इन्होंने गंगा आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज से आयुर्वेदिक मेडिसिन में पीजी की पढ़ाई की है और बतौर डॉक्टर गोवा में प्रैक्टिस भी कर चुके हैं ।

देश के पहले ‘आईआईटियन’ मुख्यमंत्री थे मनोहर पर्रिकर

प्रमोद सावंत काफी कम उम्र से ही आरएसएस से जुड़े रहे हैं । सावंत ने गोवा के संकेलिम विधानसभा सीट से दो बार विधान सभा चुनावों में जीत हासिल की  है । 2017 से इन्होंने विधानसभा अध्यक्ष के तौर पर काम किया है ।

बतौर मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के सामने सबसे बड़ी चुनौती मनोहर पर्रिकर जैसी लोकप्रियता हासिल करना होगा । प्रमोद सावंत को जानने वाले लोग उन्हें विनम्र, ज़मीन से जुड़ा इंसान बताते हैं ।
सावंत की पत्नी सुलक्षणा वर्तमान में भाजपा की महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष हैं और उनकी बेटी कक्षा छह की छात्रा है।
सावंत अपने राजनीतिक करियर में विवादों से दूर ही रहे हैं और पर्रिकर ने उन्हें 2017 में विधानसभा अध्यक्ष बनाया था।