बाघों की संख्या 2018 में बढ़कर 2,967 हुई : मोदी

Modi releasing Tiger Population reportPhoto Credit : PIB

नई दिल्ली । देश में बाघों की संख्या बढ़ने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जताई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में बाघों की संख्या 2014 के मुकाबले 2018 में काफी बढ़ी है। उन्होंने अपने आधिकारिक आवास पर ऑल इंडिया टाइगर एस्टिमेशन के चौथे चक्र का परिणाम जारी करते हुए ये बात कही।

उन्होंने कहा, “भारत में 2014 में जहां बाघों की संख्या 2,226 थी, वहीं अब 2018 में यह आंकड़ा 2,967 हो गया है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “नौ साल पहले साल 2022 तक बाघों की आबादी दोगुनी करने का लक्ष्य रखा गया था। भारत में हमने यह लक्ष्य चार साल पहले पूरा कर लिया।”

 

उन्होंने आगे कहा, ” बाघ जनगणना के घोषित किए गए परिणामों से हर भारतीय को और हर प्रकृति प्रेमी को खुशी मिलेगी।”

Tiger

Photo Credit: Twitter AIR

इंडिया टाइगर एस्टिमेट 2010 के अनुसार, 2010 में बाघों की आबादी अनुमानित रूप से 1,706 थी, जबकि 2006 में यह 1,411 रही थी।

संरक्षण की कोशिशों के बाद बाघों की आबादी 2014 में बढ़कर 2,226 हुई और 2018 में 2,967 पहुंच गई।

दुनिया जीतने वाली भारतीय नौसेना की 6 जांबाज़ महिला अधिकारी

मोदी ने इस मौके पर उन लोगों की भी सराहना कि जो बाघों के संरक्षण में अहम भूमिका निभा रहे हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने जोर देकर कहा कि लगभग तीन हजार बाघों के साथ, भारत दुनिया में बाघों के लिए सबसे बड़े और सबसे सुरक्षित घरों में से एक है।

पर्यावरण और विकास के मुद्दे पर चल रहे संघर्ष पर टिप्पणी करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मुझे लगता है कि विकास और पर्यावरण के बीच एक स्वस्थ संतुलन बनाना संभव है।”