बिहार में बुजुर्ग माता-पिता की सेवा नहीं करने वाले जाएंगे जेल

Bihar CM Nitish Kumar

पटना। बिहार में अब अपने बूढे माता-पिता की सेवा नहीं करने पर जेल की हवा खानी पड़ सकती है। राज्य मंत्रिमंडल  की बैठक में फैसला लिया गया है कि बच्चे अगर अब माता-पिता की सेवा नहीं करेंगे तो उन्हें जेल की सजा हो सकती है। माता-पिता की शिकायत मिलते ही ऐसे बेटे-बेटियों पर कार्रवाई होगी।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कुल 15 प्रस्तावों पर मुहर लगाई गई। एक अधिकारी के मुताबिक इनमें जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुई आतंकवादी घटनाओं में शहीद बिहार के जवानों के आश्रितों को बिहार सरकार ने नौकरी देने का फैसला भी शामिल है।

उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल ने 7 अहम प्रस्तावों को मंजूरी दी

सरकार ने बैठक में राज्य के बुजुर्गो के लिए चलाई जा रही पेंशन योजना को भी बिहार लोक सेवाओं के अधिकार अधिनियम 2011 के दायरे में लाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। अब किसी भी बुजुर्ग की तरफ से किए गए आवेदन का निपटारा प्रखंड विकास पदाधिकारी को 21 दिनों के अंदर करना होगा।

इसके अलावा भागलपुर में गंगा नदी पर एक नया पुल बनाने का निर्णय भी इस बैठक में लिया गया।