कीर्ति आज़ाद ने थामा कांग्रेस का हाथ

नई दिल्ली ।  भारतीय जनता पार्टी से निलंबित सांसद कीर्ति आजाद ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया है ।  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में कीर्ति आज़ाद ने कांग्रेस ज्वाइन की ।

आजाद कांग्रेस में 15 फरवरी को शामिल होने वाले थे, लेकिन जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुे आत्मघाती हमले के बाद ये कार्यक्रम टाल  दिया गया ।

आजाद बिहार के दरभंगा लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं।  तीन बार सांसद रहे आजाद को अरुण जेटली पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के बाद बीजेपी ने 2015 में निलंबित कर दिया था । कीर्ति आज़ाद ने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट एसोसिएशन में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे, उस वक्त इस केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली डीडीसीए के अध्यक्ष थे । 

बिहार में बीएसपी सभी 40 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

कांग्रेस में शामिल होने की अपनी औपचारिक घोषणा करते हुए कीर्ति आजाद ने कहा, “आज राहुल गांधी के समक्ष मैं कांग्रेस में शामिल हुआ, मैंने पारंपरिक मिथिला शैली में उनको मखाना की माला, पाग और चादर से सम्मानित किया।”

निलंबन के बाद ऐसी अटकलें लग रही थी कि वे आम आदमी पार्टी (आप) में शामिल हो सकते हैं, खास तौर से उनकी पत्नी पूनम आजाद के 2016 में आम आदमी पार्टी में शामिल होने के बाद से ऐसे अनुमान लग रहे थे लेकिन साल 2017 अप्रैल में पूनम कांग्रेस में शामिल हो गईं।

आक्रामक बल्लेबाज रहे कीर्ति आजाद भारत की 1983 विश्व कप विजेता क्रिकेट टीम का हिस्सा रहे हैं। वह बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री भागवत झा आजाद के बेटे हैं। उन्होंने पहली बार 1999 में दरभंगा से लोकसभा चुनाव लड़ा था।

आईएएनएस इनपुट के साथ