भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार

लंदन/नई दिल्ली । भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके प्रत्यर्पण की कोशिशें की जा रही हैं । नीरव मोदी को फरार होने के करीब 40 महीने बाद गिरफ्तार किया जा सका है । नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक से 13,500 करोड़ रुपए कर्ज़ में धोखाधड़ी के मामले में फरार था ।

सात दिन पहले लंदन वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने नीरव मोदी के खिलाफ वारंट जारी किया था जिसके बाद लंदन पुलिस ने उसे आज गिरफ्तार किया है ।

पंजाब नेशनल बैंक में लोन मामले में धोखाधड़ी के खुलासे से कुछ दिन पहले ही नीरव मोदी फरार हो गया था। इसकी गिरफ्तारी के लिए प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई ने इंटरपोल से रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने का आग्रह किया था । जुलाई 2018 में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किए जाने के बाद आज गिरफ्तारी की जा सकी है ।

वीडियोकॉन कर्ज़ मामले में चंदा कोचर, वेणुगोपाल धूत के ठिकानों पर छापेमारी

इससे पहले कई बार भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी के न्यूयॉर्क और हांगकांग में देखे जाने की खबरें भी आई थीं । नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पीएनबी घोटाले की सीबीआई जांच शुरू किए जाने से पहले ही फरार हो गए थे ।

प्रवर्तन निदेशालय ने पिछले साल 24 और 25 मई को दोनों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया था, दोनों के खिलाफ गैर ज़मानती वारंट भी जारी किए गए थे । कुछ दिन पहले ब्रिटेन के द टेलीग्राफ अखबार ने दावा किया था कि मोदी को लंदन में देखा गया है और वह यहां तीन बेडरूम के एक फ्लैट में रह रहा है।

नीरव मोदी की गिरफ्तारी की खबर से पंजाब नेशनल बैंक के शेयर में 4 फीसदी का उछाल आया है ।

आईएएनएस इनपुट के साथ