मोदी पर अखिलेश का पलटवार, कहा नफरत फैलाने वाले नहीं जानते सराब और शराब का फर्क

akhilesh yadavPhoto Credit: Twitter handle Akhilesh Yadav

मेरठ | उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री मोदी  पर पलटवार किया है । अखिलेश ने कहा कि पांच साल तक सत्ता में रहने के बाद, मोदी मतदाताओं को फिर भ्रमजाल में फंसा रहे हैं । अखिलेश यादव ने ट्वीट किया,  “आज टेली-प्रॉम्प्टर ने यह पोल खोल दी कि सराब और शराब का अंतर वो लोग नहीं जानते जो नफरत के नशे को बढ़ावा देते हैं।”

अखिलेश ने कहा, “सराब को मृगतृष्णा भी कहते हैं और यह वह धुंधला सा सपना है जो बीजेपी 5 साल से दिखा रही है, लेकिन जो कभी हासिल नहीं होता। अब जब नया चुनाव आ गया तो वह नया सराब दिखा रहे हैं।”

उत्तर प्रदेश: जानिए कब है आपके क्षेत्र में मतदान

अखिलेश का ये बयान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘सराब’ वाले बयान के बाद आया है ।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव लड़ रहे समाजवादी पार्टी, राष्ट्रीय लोक दल और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन को ‘सराब’ की संज्ञा दी थी । मोदी ने कहा कि ये लोगों के स्वास्थ्य और राज्य के लिए हानिकारक है।

उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में होंगे चुनाव, वाराणसी में 19 मई को डाले जाएंगे वोट

मेरठ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, “सपा का ‘सा’, रालोद का ‘रा’ और बसपा का ‘ब’ मतलब ‘सराब’। ये सराब आपको बर्बाद कर देगा।”

नरेंद्र मोदी के इस बयान की कांग्रेस ने भी कड़ी आलोचना की। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री के इस बयान पर सवाल उठाते हुए पूछा कि, “क्या इस तरह की बातें प्रधानमंत्री को करनी चाहिए? आप तीन राजनीतिक पार्टियों को सराब कह रहे हैं? क्या इस तरह से कोई प्रधानमंत्री बात करता है? क्या लोग इसे स्वीकार करेंगे? प्रधानमंत्री अपने शब्द वापस लें और 130 करोड़ लोगों से माफी मांगें या फिर देश और उत्तर प्रदेश आपको कभी माफ नहीं करेगा।”