राफेल केस में केंद्र को झटका, पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई

SC Rafaleप्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली| सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मामले की सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार की तरफ से दी आपत्तियों को खारिज कर दिया। इसके साथ ही राफेल मामले में पुनर्विचार याचिका पर अब योग्यता के आधार पर सुनवाई होगी ।

केंद्र सरकार ने राफेल से जुड़े कुछ दस्तावेजों पर विशेषाधिकार का दावा किया था और कोर्ट से अपील की थी कि इन दस्तावेजों को स्वीकार नहीं किया जाए। अदालत ने केंद्र सरकार की इस आपत्ति को खारिज करते हुए ये साफ किया है कि कोर्ट राफेल से जुड़े इन सभी दस्तावेजों को देखेगी ।

राफेल मामले में प्रधानमंत्री की भूमिका की जांच हो : राहुल

अदालत में पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा, पत्रकार अरुण शौरी और वकील प्रशांत भूषण ने अपनी याचिका में इन दस्तावेजों को जोड़ा था और 2018 में दिए गए कोर्ट के फैसले पर पुनर्विचार की अपील की थी ।

अदालत ने दिसंबर में दिए गए फैसले में 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के मामले में सरकार को क्लीन चिट दे दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने 14 दिसंबर 2018 के अपने आदेश में कहा था कि जेट विमान खरीदने की प्रक्रिया को लेकर लिए गए फैसले पर कोई संदेह नहीं है।
हालांकि सरकार ने इस मामले में सुनवाई की अगली तारीख तय नहीं की है ।