राहुल न तो अपनों के हुए न परायों के : स्मृति ईरानी

Smriti Irani in AmethiPhoto Credit : Twitter BJP Amethi

अमेठी | भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार बनाए जाने के बाद दो दिन के दौरे पर अमेठी पहुंची स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला। स्मृति ने कहा कि महागठबंधन ने राहुल गांधी का साथ छोड़ दिया। ममता बनर्जी उनको तवज्जो नहीं देती हैं। उन्होंने उस वामदलों की पीठ में भी छुरा घोंप दिया, जिसके सहारे वह सत्ता सुख भोग चुके हैं। राहुल गांधी न तो अपनों के हुए न परायों के।

हज़ारों समर्थकों के बीच राहुल ने वायनाड से भरा नामांकन पत्र

बीजेपी उम्मीदवार ने कहा, “जो लोग परिवार का नाम लेकर, दुहाई देकर तमाशा करके सत्ता में विराजमान रहे, उन्होंने 15 सालों तक अमेठी की जनता को विकास से वंचित रखा। इसलिए 6 मई को अमेठी की जनता स्मृति को ही नहीं, बल्कि विकास को जिताएगी।”

स्मृति ने कहा कि कांग्रेस ने 55 साल तक देश में राज किया, लेकिन कभी भी किसानों को विज्ञान से जोड़ने की कोशिश नहीं की। किसान खाद के लिए लाठी खाते रहे और किसानों की बात करने वाले यहां के सांसद ने कभी उनकी सुधि नहीं ली।

उन्होंने कहा कि अमेठी के लापता सांसद ने जिले को बदहाली के सिवा कुछ नहीं दिया। स्मृति ईरानी ने देशद्रोह कानून खत्म किए जाने के कांग्रेस के वादे पर भी सवाल उठाए, कहा कि देश की जनता राष्ट्रविरोधी लोगों का कभी समर्थन नहीं करेगी और चुनाव में उन्हें जरूर सबक सिखाएगी।

राहुल गांधी के वायनाड में नामांकन भरने के मसले पर स्मृति ईरानी ने कहा, “लापता सांसद जी केरल गए हैं पर्चा दाखिल करने, अब केरल की जनता को छलते हो। एक बार अमेठी के गड्ढों भरी सड़कें और बिना बिजली के घर देख लें।”