हेमंत करकरे पर टिप्पणी के लिए प्रज्ञा ठाकुर को देना होगा जवाब

साध्वी प्रज्ञा ठाकुरPhoto Credit: Twitter Sadhvi Pragya Thakur

भोपाल। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को मुंबई एटीएस के प्रमुख रहे शहीद हेमंत करकरे पर विवादित टिप्पणी के मामले में निर्वाचन आयोग ने नोटिस जारी किया है। प्रज्ञा ठाकुर और बीजेपी के जिलाध्यक्ष को जवाब देने के लिए एक दिन का समय दिया गया है।

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर मध्य प्रदेश की भोपाल संसदीय सीट से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार हैं।

जिला निर्वाचन अधिकारी सुदाम खाड़े ने बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर और बीजेपी जिलाध्यक्ष विकास वीरानी को कारण बताओ नोटिस जारी किया। नोटिस में कहा गया है, “प्रज्ञा ठाकुर का बयान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित आदर्श आचार संहिता की शर्तो का नियमानुसार उल्लंघन है।”

हेमंत करकरे को दिया था श्राप, इसीलिए आतंकियों के शिकार बने : प्रज्ञा

जिला निर्वाचन अधिकारी ने वीरानी और ठाकुर को स्पष्टीकरण के लिए एक दिन का समय दिया है। अधिकारी ने तय समय में जवाब नहीं देने की हालत में एकपक्षीय कार्रवाई की चेतावनी दी है।

प्रज्ञा ठाकुर ने बयान की चौतरफा निंदा होने पर माफी मांगते हुए बयान वापस ले लिया था। इससे पहले मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वी. एल. कांताराव ने प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर संज्ञान लिए जाने की बात कही थी।

कांग्रेस के षडयंत्र का सबूत हूं मैं : प्रज्ञा ठाकुर

साध्वी प्रज्ञा मालेगांव मामले में आरोपी हैं। साध्वी ने आरोप लगाए थे कि गिरफ्तारी के दौरान उन्होंने हेमंत करकरे को श्राप दिया था इसी वजह से आतंकवादियों ने करकरे को मारा ।

समुद्र के रास्ते पाकिस्तान से आए आतंकवादियों ने 26 नवंबर, 2008 को मुंबई में हमला किया था। इन आतंकवादियों का मुकाबला करते हुए महाराष्ट्र एटीएस के तत्कालीन प्रमुख हेमंत करकरे शहीद हो गए थे।