30 मई को शपथ लेंगे नरेंद्र मोदी, पाकिस्तान छोड़ कई देश के नेताओं को न्योता

Narendra Modi with RamNath KovindPhoto Credit: Twitter President of India

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी 30 मई को एक बार फिर प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे । भारत की तरफ से इस शपथ ग्रहण समारोह के लिए बिम्सटेक देशों के नेताओं को न्योता भेजा गया है।

बिम्सटेक देशों में भारत के अलावा बांग्लादेश, म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान शामिल है। ये वो देश हैं जो बंगाल की खाड़ी से जुड़े हुए हैं।

इनके अलावा भारत ने किर्गिस्तान के राष्ट्रपति और मॉरीशस के प्रधानमंत्री को भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का न्योता दिया गया है। मॉरीशस के प्रधानमंत्री इस साल प्रवासी भारतीय दिवस के मौके पर भी चीफ गेस्ट के तौर पर शामिल हुए थे।

पीएम मोदी ने 2014 में अपने पहले कार्यकाल के लिए शपथ लेने के दौरान सार्क देशों के नेताओं को आमंत्रित किया था। इसमें पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी शामिल थे। हालांकि इस बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को न्योता नहीं भेजा गया है।

30 मई को शाम 7 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्रिपरिषद के बाकी सदस्य पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। राष्ट्रपति भवन में होने वाले इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद इन्हें शपथ दिलाएंगे।

नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनावों में भारी बहुमत के साथ सत्ता में वापसी की है। मोदी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन  के साथ प्रधानमंत्री के रूप में पांच साल का कार्यकाल पूरा किया और इस बार अकेले भारतीय जनता पार्टी को कुल 542 सीटों में से 303 सीटें मिलीं। वहीं एनडीए को कुल 353 सीटें हासिल हुई हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी की सुनामी, 303 सीटों पर किया कब्जा

मोदी ने एनडीए के नेताओं के साथ 25 मई राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात की थी और सरकार बनाने का दावा पेश किया था। कोविंद ने मोदी से उनकी मंत्रिपरिषद और उनके शपथ ग्रहण समारोह की तारीख तय करने को कहा।

राष्ट्रपति भवन की तरफ से जारी की गई एक विज्ञप्ति के मुताबिक राष्ट्रपति ने मोदी को भारत के प्रधानमंत्री के पद पर नियुक्त किया।

इससे पहले संसद के सेंट्रल हॉल में एक समारोह में मोदी को बीजेपी संसदीय दल और एनडीए के संसदीय दल के नेता के रूप में चुना गया, जिसमें एनडीए के वरिष्ठ नेता शामिल हुए ।

कार्यक्रम में एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, 353 नवनिर्वाचित एनडीए सांसद, पार्टी प्रमुख अमित शाह, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी सहित बीजेपी के वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद रहे।